गोलू की बात सुनकर पत्नी ने दिया जहर

गोलू (मरते समय अपनी पत्नी से): अलमारी से तुम्हारे सोने के गहने मैंने ही चोरी किए थे

पत्नी रोते हुए: कोई बात नहीं जी

गोलू: तेरे भाई ने तुझे जो दो लाख रुपए दिए थे वह भी मैंने ही गायब किए थे

पत्नी: कोई बात नहीं मैंने आपको माफ किया

गोलू: तेरे कीमती साड़ियां भी मैंने चोरी कर अपनी प्रेमिका को दे दिए थे

पत्नी: कोई बात नहीं जी, आपको जहर भी तो मैंने ही दिया था हो गई बात बराबर

शिवांगी, आदर्श नगर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *